Jun 16, 2017

कहाँ गए ‘उड़ता पंजाब’ बनाने वाले, सरकार बदलते ही मीडिया हुआ अँधा, अब नहीं दिख रही ड्रग समस्या


panjab-drug-problem-not-raised-by-any-media-after-congress-sarkar
New Delhi: पंजाब में 10 साल अकाली दल की सरकार रही लेकिन शुरुआत के 8 साल में नशे की समस्या का मुद्दा नहीं उठाया गया, जैसे ही चुनाव आया 'उड़ता पंजाब' फिल्म बनाकर नशे की समस्या को जोर शोर से उठाया गया और फिल्म में अकाली दल की सरकार को नशे की समस्या के लिए जिम्मेदार ठहराया गया, इस मुद्दे को कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने भुनाया, पंजाब के अकाली दल के खिलाफ जमकर प्रचार किया, अकालियों को नशे को बढ़ावा देने का आरोप लगाया और बादल सरकार को पंजाबा से साफ़ कर दिया.

फिल्म उड़ता पंजाब के निर्माता-निर्देशकों के अलावा मीडिया ने भी चुनाव से पहले नशे की समस्या को जमकर उठाया और TRP कूटी, लेकिन सरकार बदलने की मीडिया भी अँधा हो गया और उड़ता पंजाब के निर्माता निर्देशक भी अंधे हो गए, ऐसा लगता है कि अकाली दल की सरकार की छवि खराब करने के लिए ही उड़ता पंजाब फिल्म बनायी गयी थी और सोची समझा साजिश के तहत पंजाब में ड्रग समस्या को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया गया.

अब आप खुद देखिये, सरकार बदलने के बाद सभी मीडिया अंधे हो गए हैं, अब कोई भी मीडिया, कोई भी अखबार नशे का मुद्दा नहीं उठा रहा है, क्या सरकार बदलते की ड्रग समस्या ख़त्म हो गयी, क्या सरकार बदलते ही पंजाब के युवाओं ने नशा करना छोड़ दिया, राहुल गाँधी जैसे नेता पंजाब के 70 फ़ीसदी युवाओं को नशाखोर बताते थे, क्या अब 70 फ़ीसदी युवाओं ने नशा करना छोड़ दिया.

हमारा कहने का मतलब ये है कि अगर पंजाब में वाकई में नशे की समस्या थी तो अब क्यों ख़त्म हो गयी, मीडिया ने अचानक क्यों ऑंखें बंद कर लीं, क्या चुनाव से पहले ऐसे मुद्दे उठाने से TRP बढती है, अब नशे की समस्या उठाएंगे तो TRP नहीं बढ़ेगी क्योंकि मीडिया वाले भी जानते हैं कि अब कांग्रेस सरकार पांच साल से पहले जाने वाली नहीं है इसलिए 1 साल रह जाएगा तो फिर से TRP बढाने के लिए नशे का मुद्दा उठाना शुरू कर देंगे.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राहुल गाँधी ने चुनाव जीतते ही नशे की समस्या ख़त्म करने का वादा किया था लेकिन चुनाव जीतने के बाद नशे को समाप्त करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया, पंजाब में शराब और बीयर की हजारों फैक्ट्रिया हैं जहाँ पर शराब बनती है और युवा उन्हें पीकर बर्बाद हो रहे हैं, कांग्रेस ने कहा था कि वे शराब बंद करवा देंगे, अफीम की तस्करी बंद करवा देंगे लेकिन कुछ भी नहीं किया. जब तक मीडिया इस मुद्दे को नहीं उठाएगा सरकार भी कुछ नहीं करेगी. अब देखते हैं कि मीडिया कब अपनी ऑंखें खोलता है, यह भी देखना है कि उड़ता पंजाब पार्ट 2 फिल्म बनती है या नही.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: