Jun 10, 2017

शिवराज सिंह को भूखा-प्यासा नहीं देख पाए मंडसौर के मृतक किसानों के परिजन, बोले ‘तोड़ दो उपवास’


mandsaur-family-of-killed-farmers-meeti-cm-shivraj-singh-in-bhopal
Photo Credit ANI
Bhopal: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को मध्य प्रदेश के लोग बेटे की तरह प्यार करते हैं आज यह साबित हो गया क्योंकि शिवराज सिंह को मंडसौर के वे किसान भी भूखा प्यासा नहीं देख पाए जिन किसानों के बेटे पिछले हप्ते पुलिस फायरिंग में मारे गए थे. मंडसौर में 6 किसान पुलिस फायरिंग में मारे गए थे, आज मारे गए सभी किसानों के परिजन भोपाल में शिवराज सिंह से मिलने गए और उनसे उपवास तोड़ने की प्रार्थना की.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शिवराज सिंह को किसानों का बेटा कहा जाता है, उन्होंने पिछले 11 वर्षों के मध्य प्रदेश के किसानों के लिए बहुत काम किया है, लगातार 5 साल से मध्य प्रदेश कृषि विकास के पूरे देश में अव्वल रहा है, कुछ दिन पहले कुछ लोगों की बुरी नजर मध्य प्रदेश की सुख शांति पर पड़ गयी और किसानों को भड़काकर उन्होंने मंडसौर में पुलिस फायरिंग करवा दी जिसमें 6 किसान मारे गए.

कांग्रेस पार्टी इन्हीं किसानों का नाम लेकर पूरे देश के आन्दोलन की जमीन तैयार कर रही है, मध्य प्रदेश के शान्ति स्थापित करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अनिश्चितकालीन उपवास शुरू किया है, आज उनके उपवास का पहला दिन था, उन्हें वे किसान भी भूखा प्यासा नहीं देख पाए जिन किसानों के घर के 6 लोग मारे गए हैं, ये सभी किसान आज भोपाल में दशेहरा मैदान में पहुंचे, शिवराज सिंह से मिले और उन्हें उपवास तोड़ने की अपील की, ये लोग अपने साथ खाने पीने का सामान भी लेकर गए थे लेकिन शिवराज सिंह ने अभी उपवास पर रहने का फैसला किया है, वे तक तक उपवास पर रहेंगे जब तक प्रदेश में पूरी तरह से शान्ति नहीं हो जाती.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: