Jun 9, 2017

कर्जमाफी पड़ेगा बहुत मंहगा क्योंकि अब कर्ज लेकर भूल जाएंगे किसान, करेंगे माफ़ होने का इन्तजार


kisan-karz-maafi-harmful-for-country-modi-sarkar-should-be-careful
New Delhi: भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में किसानों का कर्जमाफ करके एक तरह से गलत काम किया है क्योंकि अब सभी राज्यों से कर्जमाफी की मांग बढ़ने लगी है, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और राजस्थान के किसान भी कर्जमाफी की मांग कर रहे हैं और पिछले एक महीने से जगह जगह धरने और प्रदर्शन हो रहे हैं, मध्य प्रदेश के मंडसौर में स्थिति तनावपूर्ण है.

कर्जमाफ करना गलत नहीं है लेकिन देश के लोगों को फ्री की लत लगाना बुरा काम है क्योंकि अगर जनता को एक बार फ्री की लत लग जाती है तो वह आसानी से जाती नहीं है, लोग हमेशा फ्री के इन्तजार में रहने लगते हैं.

अब आप खुद ही सोचिये, देश में करोड़ों किसानों ने कर्ज ले रखा है, हर किसान यही चाहता है कि उसका कर्ज माफ़ हो जाए, कर्ज लेने वालों में अधिकतर अमीर किसान हैं या ऐसे लोग हैं जिन्होंने किसानों के नाम पर लोन लेकर उसे किसी और धंधे में लगा रखा है और अब ये लोग चाहते हैं कि उनका लोन माफ़ हो जाए, प्रदर्शन करने वालों में भी ऐसे ही लोग हैं क्योंकि गरीब किसान को धरना प्रदर्शन करने की फुर्सत ही नहीं है.

अब मान लो मोदी सरकार विपक्ष के दबाव में आकर किसानों का कर्ज माफ़ कर देती है तो देश को बहुत अधिक आर्थिक नुकसान होगा जिसकी भरपाई करने के लिए बेहिसाब मंहगाई बढ़ानी पड़ेगी, पेट्रोल, डीजल से लेकर हर चीज का टैक्स बढ़ाना पड़ेगा, मतलब सरकार का जितना नुकसान होगा वह आम जनता की ही जेब से वसूला जाएगा.

इसके अलावा कर्जमाफी से कर्ज लेने वाले किसानों का मनोबल बढ़ेगा, इसके बाद तो लोग बिना जरूरत के ही बैंकों से लाखों रुपये का लोन लेने लगेंगे और पैसा लेकर खा जाएंगे, अब लोन लेने वाले किसान इसी इन्तजार में रहेंगे कि कोई सरकार आए और उनका लोन माफ़ कर दे, लोन वसूलने के लिए सरकार उनके साथ सख्ती भी नहीं कर सकेगी क्योंकि अगर किसी किसान को गिरफ्तार किया गया तो विपक्ष वाले सरकार पर यह आरोप लगा देंगे कि किसानों को परेशान किया जा रहा है, उन्हें सताया जा रहा है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: