Jun 28, 2017

आतंकवादी हाफिज सईद जैसे बयान दे रहे हैं आजम खान, कुछ नहीं कर पा रही मोदी-योगी सरकार


azam-khan-insulted-indian-army-leveled-rape-charges-in-kashmir
New Delhi, 28 June: भारत में मोदी सरकार है जबकि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार है लेकिन अजाम खान हैसे नेता खुलेआम सेना का अपमान कर रहे हैं और आतंकवादियों के समर्थन में बयान दे रहे हैं, जो बयान पाकिस्तानी में बैठे हाफिज सईद जैसे आतंकवादी देते हैं वही बयान भारत में बैठकर आजम खान दे रहे हैं लेकिन ना तो मोदी सरकार उनका कुछ उखाड़ पा रही है और ना ही उत्तर प्रदेश की योगी सरकार. अब सवाल यह है कि जब आजम खान जैसे नेता भारत में ही बैठकर आतंकवादियों जैसे बयान दे रहे हैं तो पाकिस्तान को मुंह माँगी मुराद मिल गयी समझो, क्योंकि हाफिज सईद जैसे आतंकवादियों को पालने में पाकिस्तान के हर वर्ष अरबों रुपये खर्च हो जाते हैं लेकिन अजाम खान के ऊपर उन्हें कुछ भी नहीं खर्च करना पड़ेगा, सब कुछ फ्री में मिल जाएगा क्योंकि पाकिस्तान यही चाहता है कि भारत के मुस्लिम जिहाद करें और अपनी सरकार के खिलाफ खड़े हो जाएं, अजाम खान जैसे लोग पाकिस्तान के इसी प्लान पर काम कर रहे हैं.

आज आजम खान ने कश्मीर में सेना के खिलाफ बयान देते हुए कहा कि सेना के जवान कश्मीर में महिलाओं के साथ रेप करते हैं इसलिए वहां की महिला उनका रेप करने वाला पार्ट काट रही हैं, अजाम खान ने कहा कि महिलाऐं वही पार्टी काट रही हैं जिस पार्ट से उन्हें शिकायत है वरना वे फौजियों का सर काटती या हाथ पैर काटतीं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय सेना पर यही आरोप पाकिस्तान, वहां के आतंकवादी और कश्मीरी जिहादी लगाते हैं, अब आजम खान भी उनके साथ खड़े हो गए हैं इसलिए आतंकवादियों को एक बड़ा साथी मिल गया है, अब आजम खान उत्तर प्रदेश में जिहाद शुरू करने के रास्ते पर चल पड़े हैं लेकिन हैरानी की बात यह है कि मोदी और योगी सरकार बैठकर सिर्फ तमाशा देख रही है. अब समझ में आ गया है कि कश्मीर में अलगाववादियों पर कोई एक्शन क्यों नहीं हो पा रहा है, जब आजम खान उत्तर प्रदेश में बैठकर आतंकवादियों के समर्थन में बयान दे सकते हैं तो अलगाववादियों के लिए तो कश्मीर घर के समान है.

पढ़ें: आजम खान का बयान
मैंने सुना है हथियार बंद महिलाओं ने फौजी को मारा और लाश से जिस्म का वह हिस्सा काटकर ले गयीं जो हिन्दुस्तान की असल जिन्दगी से पर्दा उठाती है. कई लोग फौजियों का या बेगुनाहों का सर उतारते हैं, कहीं कोई किसी के हाथ काटकर ले जाता है लेकिन इस मौके पर महिला दहशतगर्दों ने फ़ौज के प्राइवेट पार्ट को काटकर साथ ले गए, उन्हें हाथ से शिकायत नहीं, सर से शिकायत नहीं, जिस्म के जिस हिस्से से उन्हें शिकायत थी वे उसी काटकर ले गयीं, ये इतना बड़ा सन्देश है जिसे देखकर पूरे हिंदुस्तान को शर्मिंदा होना चाहिए.

अब आप खुद सोचिये, मान लीजिये, महिला आतंकवादी भारत के फौजियों का प्राइवेट पार्ट काटकर ले जाती हैं तो पूरे हिंदुस्तान को शर्मिंदा होना चाहिए. मान लो फौजियों ने किसी भी महिला का रेप नहीं किया है और उन्हें बदनाम करने के लिए आतंकवादी उनका प्राइवेट पार्टी काटकर ले जाते हैं तो क्या इससे साबित हो जाता है कि भारतीय सैनिक महिलाओं का रेप करते हैं, यह तो ऐसा हुआ कि आतंकवादी आतंकवादी ना होकर एक जज हो गए, आजम खान के लिए आतंकवादी जज हो गए हैं. यह बहुत ही घटिया बयान है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: