May 27, 2017

सोचने वाली बात, सुषमा ने मदद की बात ख़त्म, अब MODI से क्यों मिलना चाहती है पाकिस्तान से आयी UZMA


why-uzma-want-to-meet-pm-narendra-modi
New Delhi: उज्मा की जिस तरह से पिछली जिन्दगी रही है और जिस तरह से उसकी पाकिस्तान से भारत में एंट्री हुई है और जिस तरह से उसनें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मोदी से मुलाकात कराने की प्रार्थना की है उससे कई प्रकार के प्रश्न उठ रहे हैं, पहला प्रश्न यह है कि आखिर उज्मा मोदी से क्यों मुलाकात करना चाहती है, जिस तरह से कहानी बन रही है अगर उसके हिसाब से उसकी मोदी के साथ मुलाक़ात करा दी गयी तो क्या यह जल्दबाजी नहीं होगी, उज्मा को पता है कि मुसलमान लड़की को पाकिस्तान से बचाकर लाने का क्रेडिट लेने के चक्कर में सुषमा स्वराज उसकी मोदी के साथ मुलाकात करा सकती हैं और हो सकता है कि मोदी भी उससे मिलने को तैयार हो जाएं लेकिन अगर वह ट्रेंड टेररिस्ट या ISI एजेंट या स्लीपर सेल की सदस्य निकली और उसनें एकाएक मोदी पर हमला कर दिया तो क्या होगा. यह सवाल सोशल मीडिया पर भी घूम रहा है, लोग मोदी की सुरक्षा के लिए चिंतित हैं.

उज्मा भारत में ही पांच सादियां कर चुकी है, जिस पाकिस्तानी व्यक्ति ताहिर पर उसनें जबरजस्ती शादी करने का आरोप लगाया है उससे वह मलेशिया में एक साल पहले मिली थी, उसके साथ पता नहीं कितने देश घूम चुकी है, उसके साथ LIVE IN रिलेशन था उसका. उज्मा को ताहिर से इतनी मुहब्बत हो गयी कि वह उससे मुलाकात करने के लिए पाकिस्तान पहुँच गयी. पाकिस्तान पहुंचकर उसनें ताहिर पर जबरजस्ती शादी करने का आरोप लगाया, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उसकी मदद की, उसे छुड़ाकर भारत लायीं और उसे भारत की बेटी बना दिया, अब वही भारत की बेटी सीधा मोदी से मिलना चाहती है.

अब आप खुद सोचिये, उज्मा को विदेशों में घूमने का शौक था, वह लगातार विदेश में घूमती रहती है, उसके पास इतने पैसे कहाँ से आते हैं. वह बोलने चालने में बहुत होशियार दिखती है तो उसनें 6-6 शादियाँ कैसे कर डाली और पाकिस्तानी के चक्कर में कैसे फंस गयी.

ताहिर के साथ भी वह साल भर LIVE IN में रही, दोनों लोग विदेश घुमते रहे, मौज मस्ती करते रहे, इतना पैसा उनके पास कैसे आया. कहीं उनके पीछे पाकिस्तान की ISI तो नहीं है जिसनें एक साजिश के तहत उज्मा को भारत में प्रवेश दिलाया है.

इससे पहले भी उज्मा भारत में पांच शादियाँ कर चुकी है वो भी केवल अमारों से. उज्मा की जिन्दगी में हमेशा ऊंचे सपने दिखाने वाले आदमी आए, उसनें सपने देखे और अमीरों से विवाह करती रही लेकिन कोई भी उसकी जिन्दगी में ज्यादा दिनों तक नहीं टिक सका. उसकी अब तक की जिन्दगी सवालों के घेरे में है, लेकिन भारत सरकार ने मुस्लिम तुस्टीकरण के लिए उसे भारत की बेटी बनाकर मशहूर कर दिया है.

संभलकर रहना होगा मोदी सरकार को

अब मान लीजिये, कुछ दिनों बाद अगर पता चला कि UZMA ISI की एजेंट है तो मीडिया वाले क्या खबर छापेंगे - जिस लड़की को मोदी सरकार ने बताया भारत की बेटी वो निकली ISI एजेंट, मान लो मोदी सरकार ने मुस्लिम तुस्टीकरण के लिए उज्मा को बीजेपी में प्रवेश दे दिया और बाद में पता चला कि वह ISI एजेंट है तो मीडिया वाले क्या छापेंगे - BJP नेता निकली ISI एजेंट.

इसके बाद कांग्रेस पार्टी क्या कहेगी ये भी सुन लो - बीजेपी आतंकवादियों की पार्टी है, BJP ISI जासूसों की पार्टी है, BJP देशद्रोहियों की पार्टी है.

अगर आप ध्यान दें तो पायेंगे कि पिछले 4-5 महीनों से छोटे मोटे BJP नेता पाकिस्तान के लिए जरूरी करते हुए पकडे गए हैं, कांग्रेस ने बीजेपी को ISI और पाकिस्तानी जासूसों की पार्टी बताना शुरू भी कर दिया है. ये लोग बहुत चालाकी से बीजेपी में शामिल हुए, ISI के लिए जासूसी करते रहे, पकडे गए और बीजेपी को बदनाम कर दिया.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: