May 27, 2017

कपिल मिश्रा ने अरविन्द केजरीवाल के खाते में जमा किये 3 और घोटाले, अबकी बार सबूतों के साथ


kapil-mishra-exposed-arvind-kejriwal-3-other-scams-in-medical
New Delhi: दिल्ली सरकार के पूर्व जल मंत्री कपिल मिश्रा का जलजला जारी है, आज उन्होने सबूतों के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के खाते में 3 और घोटाले जमा करके उन्हें दुनिया का सबसे बड़ा घोटालेबाज बताया है. कपिल मिश्रा ने दवाई, एम्बुलेंस और नियुक्ति-ट्रान्सफर-पोस्टिंग में घोटालों का पर्दाफाश करते हुए कहा है कि इन घोटालों में सत्येन्द्र जैन के साथ साथ केजरीवाल बराबर के साझीदार हैं.

कपिल मिश्रा ने कहा कि केजरीवाल ने सत्येन्द्र जैन के साथ मिलकर ट्रांसफर-पोस्टिंग घोटाला किया, पैसे लेकर मेडिकल विभाग और अस्पतालों में नियुक्तियां की गयी और लोगों के ट्रांसफर किये गए, इसके अलावा करीब 300 करोड़ रुपये का दावा खरीदने में घोटाला किया गया, इसके अलावा एम्बुलेंस की खरीद में भी घोटाला किया गया.

कपिल मिश्रा ने केजरीवाल के एम्बुलेंस घोटाले का सबूत दिखाते हुए कहा - दिल्ली सरकार CATs की 100 एम्बुलेंस खरीदती है, हर एम्बुलेंस के लिए करीब 23 लाख रुपये का पेमेंट किया जाता है, उन्होंने बिल भी दिखाया. उन्होंने बताया कि सरकार और टाटा के रेट के अनुसार एम्बुलेंस का रेट 8.74 लाख रुपये हैं, इसके बाद एम्बुलेंस में लगभग 2.5 लाख रुपये के Equipment लगाए गए हैं, कुल मिलकर होता है 11 लाख रुपये के आस पास. अब आप खुद सोचिये, 11-12 लाख रुपये वाली चीज के केजरीवाल सरकार 23 लाख रुपये पेमेंट कर रही है.

कपिल मिश्रा ने बताया कि केजरीवाल सरकार ने बहुत ही जोर शोर से इन एम्बुलेंसों का उद्घाटन किया था, उद्घाटन से ठीक एक दिन पहले कहा गया था कि ये फायरप्रूफ हैं लेकिन दूसरे ही दिन 2 एम्बुलेंस खड़े खड़े जलकर राख हो जाती हैं. उसके बावजूद भी इन एम्बुलेंसों को सड़क पर उतारा जाता है लेकिन दो एम्बुलेंस और जलकर राख हो जाती हैं. इस तरह से 4 गाड़ियाँ जलकर राख हो चुकी हैं, 100 गाड़ियों का पेमेंट हो चुका है, 11 लाख की एम्बुलेंस के लिए 23 लाख पेमेंट किये गए हैं, हर एम्बुलेंस में 12-13 लाख लूटे गए हैं. यह लूट केजरीवाल ने सत्येन्द्र जैन के साथ मिलकर की है.

कपिल मिश्रा ने कहा कि इस वक्त सड़कों पर 100 एम्बुलेंस चल भी नहीं रही हैं, उन्होने सरकार से आंकड़ा माँगा कि कितनी एम्बुलेंस सड़कों पर चल रही हैं और कितनी ढककर रखी गयी हैं.

कपिल मिश्रा ने दवाई खरीद में 300 करोड़ रुपये का जिक्र करते हुए कहा कि केजरीवाल ने 300 करोड़ रुपये की दवाई खरीदी और सभी की अभी दवाइयाँ अचानक गायब हो गयीं, अगर केजरीवाल ने दवाइयां खरीदी थीं तो वो गयी कहाँ, उन्होंने कहा कि केजरीवाल अचानक अस्पतालों के दौरे क्यों करने लगे हैं, कौन सा राज है जिनके खुलने का केजरीवाल को डर सता रहा है, दवाइयां गयी तो गयी कहाँ.

कपिल मिश्रा ने 3 घोटालों में अरविन्द केजरीवाल, सत्येन्द्र जैन, तरुण सीम का नाम लगाया और केजरीवाल को सभी घोटालों में बराबर का हिस्सेदार बताया. उन्होने केजरीवाल के खिलाफ FIR कराने की भी बात कही है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: