May 11, 2017

पढ़ें: केजरीवाल गैंग पर क्यों भारी पड़ रहे हैं कपिल मिश्रा


kapil-mishra-expose-kejriwal-by-using-kejriwal-dirty-trick

New Delhi : कपिल मिश्रा भले ही इस वक्त जीवन का बहुत बड़ा युद्ध लड़ रहे हैं लेकिन वे केजरीवाल गैंग पर अकेली ही भारी पड़ रहे हैं, इतने भारी कि केजरीवाल गैंग को मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए नकली EVM ढूंढकर टेम्परिंग का गेम खेलना पड़ा लेकिन उसका प्रयास रंग नहीं लाया क्योंकि उनके विधायक ने ऐसे ऐसे दावे किये जिस पर कोई भी समझदार व्यक्ति यकीन नहीं कर सकता.

इस वक्त आम आदमी पार्टी में हडकंप मचा है, केजरीवाल के पैरों तले जमीन खिसक रही है, सभी बड़े नेताओं को जेल की सलाखें नजर आ रही है, अब इन लोगों के पास सिर्फ एक ही काम है - कपिल शर्मा के मुद्दे पर से लोगों का ध्यान भटकाना लेकिन केजरीवाल गैंग इसमें सफल नहीं हो पा रही है.

कपिल मिश्रा क्योंकि पड़ रहे हैं केजरीवाल गैंग पर भारी

कपिल मिश्रा केजरीवाल गैंग के हर दांव पेंच से वाकिफ हैं, उन्हें पता है कि केजरीवाल क्या क्या चालें चल सकते हैं और उसका तोड़ क्या है, कल आप कार्यकर्त्ता ने उनपर हमला किया तो वे ऐसे लेट गए जैसे बहुत पीटे गए हों, मीडिया ने उन्हें बहुत भाव दिया, केजरीवाल गैंग में यह सब देखकर हडकंप मच गया.

कपिल मिश्रा के बारे में सबसे ख़ास बात ये है कि वे अभी तक पाक साफ़ रहे हैं, वे ना तो किसी भ्रष्टाचार में शामिल रहे हैं, ना ही उनके खिलाफ कोई सबूत है और ना ही उनके खिलाफ केजरीवाल गैंग के पास कोई स्टिंग या टेप है वरना अब तक केजरीवाल गैंग कपिल मिश्रा को बेईमान साबित करने के लिए पूरा प्रयास करता लेकिन कपिल मिश्रा की ईमानदारी उनका सबसे बड़ा हथियार बन गयी है.

कपिल मिश्रा आज ACB दफ्तर में जाकर टैंकर घोटाले के खिलाफ तीन और सबूत पेश करेंगे और बयान भी दर्ज करायेंगे, साथ ही उनकी भूख हड़ताल भी जारी रहेगी.

कपिल मिश्रा ने यह भी बताया कि उनपर हमला करने वाला अंकित भारद्वाज आप का ही कार्यकर्त्ता है और मोहल्ला क्लिनिक प्रोजेक्ट का काम काज देखता है.

अपने ही जाल में फंस रहे हैं केजरीवाल

अरविन्द केजरीवाल इतने नासमझ निकलेंगे कोई को अंदाजा नहीं रहा होगा, कपिल मिश्रा उनके भ्रस्टाचार का हिसाब किताब मांग रहे हैं तो वे EVM का मुद्दा उठा रहे हैं, केजरीवाल को शायद पता नहीं है दुनिया समझ रही है कि वे EVM टेम्परिंग का मुद्दा सिर्फ भ्रष्टाचार के मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए कर रहे हैं इसलिए लोग यह भी मान रहे हैं कि केजरीवाल ने 2 करोड़ रुपये घूस लिया था और आप पार्टी में घोटाला हो रहा है, अच्छा होता कि केजरीवाल अपने भ्रष्टाचार और घूसखोरी पर सफाई देते लेकिन EVM का मुद्दा उठाकर उन्होंने खुद को ही एक्सपोज कर दिया है और इसका क्रेडिट भी कपिल मिश्रा को ही जाता है क्योंकि उन्होंने कहा है कि अब केजरीवाल के नाम से वोट नहीं मिलते इसलिए वे EVM का मुद्दा केवल लोगों का अपने भ्रष्टाचार पर से ध्यान हटाने के लिए कर रहे हैं.

पाँचों शातिरों को 'सही पकडे हैं' कपिल मिश्रा

कपिल मिश्रा आम आदमी पार्टी के पाँचों शातिरों - संजय सिंह, आशीष खेतान, सत्येन्द्र जैन, राघव चड्ढा और दुर्गेश पाठक को सही पकडे हैं क्योंकि ये पाँचों लोग देखते ही देखते रोडपति से अरबपति बन गए और दिल्ली में अरबों रुपये की संपत्ति खड़ी कर ली, इन पाँचों ने कई कई बार विदेश दौरे किये, चंदे के धन का गलत इस्तेमाल किया और कपिल मिश्रा के अनुसार ये लोग देशद्रोहियों के साथ मिलकर चंदे का जुगाड़ किया. अब कपिल मिश्रा ने इनकी करतूतों के खिलाफ अनशन शुरू किया है इसलिए ये नेता बौखला गए हैं, अब देखते हैं कि EVM का मुद्दा इन्हें कब तक बचाता है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: