May 17, 2017

बरकती जैसे लोगों को उठाकर भारत से बाहर फेंक देना चाहिए: BJP


barkati-not-deserve-to-live-in-india-says-bjp-prawakta-rahul-sinha

Kolkata : कुछ दिनों पहले कोलकता की टीपू सुलतान मस्जिद के शाही इमाम मौलाना नूर-उर-रहमान बरकती ने बहुत ही खतरनाक बयान देते हुए कहा था कि वे राज्य सरकार और केंद्र सरकार का आदेश नहीं मानते, वे तो सिर्फ अंग्रेजों का आदेश मानते हैं और भारत छोड़ने से पहले अंग्रेजों ने उन्हें लाल बत्ती वाली गाडी में चलने का हक दिया था इसलिए अगर उन्हें मोदी भी आकर बोलें कि लाल बत्ती का इस्तेमाल मत करो तो वे उनका भी आदेश नहीं मानेंगे, उन्होंने यह भी कहा था कि अगर हमें किसी काम से रोकोगे तो 30 करोड़ मुसलमान जिहाद करेंगे और सबको मार देंगे, मोदी को भी मार देंगे, हम अलग पाकिस्तान की मांग करेंगे, बरकती के इस बयान पर काफी विवाद हुआ.

बरकती के विवादास्पद बयान को देखते हुए टीपू सुलतान मस्जिद के ट्रस्टियों ने आज उन्हें शाही इमाम के पद से हटा दिया, जैसे ही बीजेपी को यह खबर हुई, इस निर्णय का स्वागत किया गया साथ ही कुछ और भी मांग की गयी.

बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता राहुल सिन्हा ने कहा कि बरकती जैसे लोगों को उठाकर भारत से बाहर फेंक देना चाहिए.

ANI ने बात करते हुए राहुल सिन्हा ने कहा कि बरकती जैसे लोग जो भारत विरोधी नारे लगाते हैं, भारत विरोधी बयान देते हैं, पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाते हैं, देश तोड़ने की बातें करते हैं, उन्हें भारत में रहने का अधिकार नहीं है, ऐसे लोगों को तुरंत उठाकर भारत से बाहर फेंक देना चाहिए.

बीजेपी के दूसरे नेता दिलीप घोष ने भी यही मांग की, उन्होंने कहा कि यह देश का दुर्भाग्य है बरकती जैसे लोग धर्म के ठेकेदार हैं, इससे भी बड़ा दुर्भाग्य है कि ममता बनर्जी जैसी नेता बंगाल की मुख्यमंत्री हैं जो ऐसे लोगों को बढ़ावा देती हैं, उनके लिए ऐसे लोग वोट जोड़ने वाले होते हैं इसलिए वे जान बूझकर ऐसे लोगों को पालती पोषती हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: