Apr 19, 2017

फतवा निकालने वाले मौलवी की कट गयी नाक, सोनू निगम ने मुंडवा लिए बाल, मौलवी ने नहीं दिए 10 लाख


syed-sha-atef-ali-al-quaderi-sonu-nigam-save-head
मुंबई, 19 अप्रैल: आपने सुना होगा कि आज बंगाल के एक मौलवी सैय्यद शा आतेफ़ अल कादरी ने सोनू निगम के खिलाफ फतवा जारी किया था जिसमें उन्हें फटे हुए जूतों की माला पहनाने पर 10 लाख रुपये का ईनाम देने की बात की थी, बाद में उन्होने दूसरा फतवा निकालते हुए कहा था कि अगर कोई आदमी सोनू निगम के बाल ही काटकर लाएगा मतलब उनका सर मूंडेगा तो उसे भी 10 लाख का ईनाम दिया जाएगा.

सोनू निगम को जैसे ही इस फतवे की खबर मिली उन्होंने तुरंत एक मुस्लिम से अपने बाल मुंडवाने का निर्णय लिया और मौलवी से कहा - 2 बजे आलिम मेरे सर के बाल मूंडेगा, तुम अपने 10 लाख तैयार रखना. उन्होंने मीडिया को भी इस घटना का गवाह बनने के लिए आमंत्रित.
कार्यक्रम के मुताबिक 2 बजे सोनू निगम ने आलिम के हाथों से अपने बाल मुंडवा लिए और फतवा निकालने वाले मौलवी से कहा कि अब आलिम को 10 लाख का ईनाम देकर अपना वादा पूरा करो लेकिन मौलवी ने 10 लाख रुपये देने से मना कर दिया, उसनें कहा कि सोनू निगम ने मेरी सिर्फ एक बात मानी है, मैंने ये भी कहा था कि सोनी निगम को फटे और सड़े हुए जूतों की माला पहनाकर उन्हें हिंदुस्तान के हर घर के सामने घुमाना पड़ेगा, अभी मेरी यह शर्त पूरी नहीं हुई है.

अब आप ही सोचिये, सोनू निगम को जूतों की माला पहनाकर हर घर के सामने घुमाने में 100-200 करोड़ रुपये का पेट्रोल खर्च हो जाएगा, अब 10 लाख रुपये के लिए 100-200 करोड़ रुपये कौन खर्च करेगा, सोनू निगम ने आज मौलवी सैय्यद शा आतेफ़ अल कादरी की नाक काट ली और मौलवी ने अपनी नाक कटवा ली, अगर वह 10 लाख नहीं दे सकते थे तो आखिर फ़तवा किस दम पर निकाला. मतलब आज सोनू निगम ने साबित कर दिया कि ये मौलवी सिर्फ नाम का फतवा निकालते है, ना तो इनके फतवे में दम होता है और ना इनकी जिगर में दम होता है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: