Apr 15, 2017

बहुत शर्मनाक है, विरोधी पार्टियाँ ईमानदारी से हार स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं: रविशंकर


ravi-shankar-prasad-its-shameful-opposition-not-accepting-defeat
Bhuvneswar, 15 April: आज भुवनेश्वर में भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के उपलक्ष्य में केंद्रीय सूचन एवं प्रसारण मंत्री और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया, उन्होने हाल ही में हुए उप-चुनावों में बीजेपी की जीत पर ख़ुशी जताई, उन्होंने कहा कि पहले हमारे बारे में कहा जाता था कि हम कांग्रेस को तो हरा सकते हैं लेकिन क्षेत्रीय पार्टियों को नहीं हरा पाते हैं लेकिन हाल ही में उत्तर प्रदेश चुनावों में हमने इस कहावत को भी गलत साबित करते हुए 403 सीटों में से 325 सीटों पर विजय प्राप्त की.

उन्होंने अमित शाह का सन्देश सुनाते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जी बीजेपी की जीत पर तो खुश हैं लेकिन जिस प्रकार से विपक्षी पार्टियाँ हार का बहाना बना रही हैं उससे नाराज भी हैं.

उन्होंने कहा कि यह बहुत शर्मनाक है कि हमारी विरोधी पार्टियाँ इमानदारी से हार स्वीकार करने को तैयार नहीं हैं, ये लोग हारने अक बहना ढूंढ रहे हैं, जब ये लोग चुनाव जीतते हैं तो EVM को सही बताते हैं लेकिन जब ये लोग चुनाव हार जाते हैं तो EVM पर दोष देने लगते हैं.

उन्होंने कहा कि हम विपक्षी पार्टियों से कुछ सवाल पूछना चाहते हैं -
  • 2004 और 2009 में इसी EVM से UPA ने लोकसभा चुनावों में जीत दर्ज की थी, क्या इस वक्त EVM सही थी?
  • बसपा ने 2007 में इसी EVM से चुनाव जीता, क्या उस वक्त EVM ठीक थी?
  • 2012 में सपा सत्ता में आयी, क्या तब EVM ठीक थी?
  • दिल्ली में केजरीवाल सरकार को 70 में से 67 सीटें मिली, हमारी हार हुई, क्या उस वक्त EVM ठीक थी
  • बिहार में उनकी जीत हुई और हमारी हार हुई, क्या उस वक्त EVM ठीक थी?
  • पंजाब में कांग्रेस की जीत हुई, बीजेपी-अकाली दल की हार हुई, क्या उस वक्त EVM ठीक थी
अमित शाह ने कहा कि इस प्रकार से सच्चाई की हार को इमानदारी से स्वीकार ना करके विपक्षी पार्टियाँ चुनाव आयोग का खुला निरादर कर रही हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: