Apr 24, 2017

भारत का फ्यूचर प्लान बनाते समय सो गए नीतीश कुमार


nitish-kumar-sleeping-during-niti-ayog-governing-council-meeting
New Delhi, 24 April: कल NITI आयोग की गवर्निंग काउंसिल की महत्वपूर्ण बैठक हो रही थी, भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के सभी मुख्यमंत्रियों और केंद्रीय मंत्रियों के साथ मिलकर अगले 15 वर्षों का प्लान बना रहे थे लेकिन नीतीश कुमार इस मीटिंग में झपकियाँ मारते दखे, आराम से सोते दिखे, ऐसा लगता है कि उनपर लालू यादव की संगति का असर हो गया है.

NITI आयोग की गवर्निंग काउंसिल में सभी मुख्यमंत्री सदस्य हैं, NITI आयोग ही देश के विकास का प्लान बनाता है, मोदी केंद्रीय मंत्रियों और मुख्यमंत्रियों की टीम को टीम इंडिया बोलते हैं.

आज प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी टीम इंडिया के साथ देश के विकास का 15 साल का प्लान बनाया क्योंकि अगर देश की दशा दिशा सुधारनी है, गरीबों और किसानों की दशा सुधारनी है, बेरोजगारों को रोजगार देना है, देश का विकास करना है तो उसके लिए पहले से ही प्लान बनाना पड़ता है और उसी प्लान के अनुसार चलना पड़ता है, क्योंकि संघीय ढाँचे में राज्य के मुख्यमंत्रियों के ही हाथों में राज्य के विकास की जिम्मेदारी होती है इसलिए देश और राज्य के विकास का प्लान बनाते समय मुख्यमंत्रियों का भी रहना जरूरी होती है लेकिन देश का दुर्भाग्य है कि केजरीवाल और ममता बनर्जी ने मोदी से पर्सनल दुश्मनी की वजह से इस मीटिंग का बहिष्कार कर दिया.

आज राष्ट्रपति भवन में NITI योग की गवर्निंग काउंसिल की तीसरी बैठक हुई, बैठक में राज्यों के मुख्यमंत्रियों सहित केंद्रीय मंत्री और NITI योग के सदस्य भी शामिल थे लेकिन केजरीवाल और ममता बनर्जी ने इस मीटिंग का बहिष्कार किया और ये लोग मोदी को हटाने का प्लान बनाने में ही लगे रहे.

आज NITI योग की बैठक में मोदी ने भारत में बदलाव लाने के लिए अगले 15 वर्षों का का रोडमैप तैयार किया। इसमें 7 साल का रणनीतिक दस्तावेज तथा तीन साल का ऐक्शन प्लान शामिल है।

विपक्षी पार्टी से कौन कौन से मुख्यमंत्री शामिल हुए?

विपक्षी पार्टियों के लगभग सभी मुख्यमंत्री इस बैठक में शामिल हुए जिसमें - पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, तेलंगाना के मुख्यमंत्री KCR, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलनिसामी बैठक में शामिल हुए।

इस बैठक में BJP शासित राज्यों के सभी मुख्यमंत्री तथा केंद्रीय मंत्री भी शामिल हुए.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: